आपकी सुरक्षा हमारी प्राथमिकता है। कोरोनावायरस पर हमारी यात्रा सलाहकार पढ़ें (COVID-19).

17-07-2019

रशीद हॉस्पिटल के डॉक्टरों ने अत्यधिक जटिल सर्जरी करके पेशेंट की जान बचाई

दुबई, यूएई:   रशीद हॉस्पिटल  के डॉक्टरों ने एक अत्यधिक जटिल सर्जरी संपन्न करते हुए एक 40-वर्ष उम्र वाले एमिराती पेशेंट की जान बचाई जो प्राणघातक ब्रेन एनेयुरिज्म से पीड़ित था।

पेशेंट, श्री हुमैद अल ज़ा’ बी, ने बताया कि जिम में व्यायाम करते समय उसे सिर में अचानक गंभीर दर्द हुआ।

“ मैंने एम्बुलेन्स बुलाई और उन्होंने मुझे कुछ दर्दनिवारक दवाएं दीं, जिससे मुझे थोड़ी राहत मिली। लेकिन उसी दिन बाद में फिर से ज्यादा तेज सिरदर्द हुआ इसलिए मैं तुरंत हॉस्पिटल पहुंचा,” ऐसा श्री अल ज़ा’ बी ने बताया।

पेशेंट   रशीद हॉस्पिटल’ s के न्यूरोसर्जरी विभाग में पहुंचा, जहां विभाग के डॉक्टरों ने एक सीटी स्कैन और अन्य ज़रूरी टेस्ट किए।

डॉ. अब्दुल्ला कासिम, न्यूरोसर्जरी कंसल्टैंट at  रशीद हॉस्पिटल  ने बताया कि परीक्षण परिणामों को देखने से यह पता चला कि पेशेंट ब्रेन एनेयुरिज्म के एक जटिल मामले से ग्रस्त था, जिसके लिए तुरंत सर्जिकल प्रयास की आवश्यकता थी।

डॉ कासिम ने बताया कि ब्रेन एनेयुरिज्म में एक रूधिर वाहिनी असामान्य रूप से फैल कर चौड़ी हो जाती है, जो वाहिनियों की पेशीय भित्तियों के कमज़ोर होने का परिणाम होता है। प्रायः एनेयुरिज्म गुब्बारे जैसी आकृति वाले होते हैं।

श्री जा़बी के’ s मामले में, डॉक्टरों का मानना थाा कि उसकी दशा के लिए जन्म से मौजूद जोखिम वाली वज़ह जिम्मेदार थी

उन्होंने बताया कि चिकित्सकीय टीम ने तुरंत सर्जरी की, जो लगभग दो घंटे चली जिसमें उन्होंने रूधिर वाहिनी की सामान्य आकृति बहाल करने और एनेयुरिज्म से फिर से रक्तस्राव रोकने के लिए चार आर्टिरी मिनी-क्लिप लगाए। रशीद हॉस्पिटल द्वारा हर साल यूएई में सबसे बड़ी संख्या में ब्रेन एनेयुरिज्म उपचार किए जाते हैं।

डॉ कासिम ने बताया कि जटिल और दुर्लभ सर्जरी सफल रही जिसमें टीम ने एक अभिनव विधि का उपयोग करते हुए पेशेंट’ s के मस्तिष्क की वाहिनियों में रूधिर का सुचारू प्रवाह सुनिश्चित करने के लिए फ्लुरोसीन डाई (ICG) इंजेक्ट करते हुए सर्जरी को सफल बनाया। आगे उन्होंने कहा कि रशीद हॉस्पिटल यूएई में एकमात्र ऐसा हॉस्पिटल है जिसने इस अभिनव तकनीक को अपनाया है। सर्जरी के दौरान और सूक्ष्मदर्शी से देखे जाने पर वे रूधिर वाहिनियां चमकने लगती हैं जिनमें डाई इंजेक्ट की जाती है। इससे पुष्टि होती है कि सर्जरी कामयाब रही है और रूधिर प्रवाह सामान्य हो गया है।

“ मुझे हॉस्पिटल से छुट्‌टी मिल गइ्र और काफी बेहतर महसूस करता हूं। मैं रशीद हॉस्पिटल’ s के न्यूरोसर्जरी विभाग के डॉक्टरों से लेकर नर्सों और प्रशासनिक कर्मचारियों तक सभी का आभार व्यक्त करता हूं। मैं खासतौर से डॉ कासिम और उनकी टीम का उस उपचार और देखभाल के लिए शुक्रिया अदा करना चाहता हूं जो मुझे मिला,” श्री ज़ाबी ने अंत में कहा।

ब्रेन एनेयुरिज्म के मामले अज्ञात हैं, लेकिन अनेक वज़हें हैं जिनसे इसका जोखिम बढ़ सकता है। समय के साथ विकसित होने वाले जोखिम कारकों में ये शामिल हैं: उम्र बढ़ना, सिगरेट पीना, उच्च रक्तचाप, सिर में चोट और रूधिर के संक्रमण आदि कुछ प्रमुख हैं। संयोजी ऊतकों के आनुवंशिक विकार और सेरेब्रल आर्टेरिओवेनस विकृति कुछ जन्मजात मौजूद जोखिम कारक होते हैं।
Zawya

 

अभिगम्यता (उपलब्धता) के विकल्प

लॉगिन करें

मुझे याद रखें

खाता नहीं है

सुविधा लॉगिन

पंजीकरण करें

पहले से ही खाता है